04/17/2024 1:58 AM

पंजाब पुलिस पारदर्शी, शांतिपूर्ण मतदान करवाने के लिए पूरी तरह तैयार: DGP गौरव यादव

भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा 2024 के मतदान के लिए तरीखों का ऐलान करने के एक दिन बाद, डीजीपी गौरव यादव ने कहा कि पंजाब पुलिस सरहदी राज्य में पारदर्शी, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान को यकीनी बनाने के लिए पूरी तरह तैयार है। दरअसल डीजीपी गौरव यादव, स्पैशल डीजीपी लॉ एंड आर्डर अर्पित शुक्ला के साथ हैडक्वार्टर से सभी सीनियर पुलिस अधिकारियों, रेंज एडीजीएसपी, आईजीएसपी, डीआईजीज और सीपीज, एसएसपीज के साथ राज्य में सुरक्षा प्रबंधों का जायजा लेने संबंधी बातचीत कर रहे थे।

पंजाब में आखिरी पड़ाव में 1 जून को वोटें पड़ेंगी। डीजीपी गौरव यादव ने समूह अधिकारियों को आचार संहिता की हर पक्ष से सख्ती के साथ पालना करने और आजाद व निष्पक्ष मतदान करवाने के लिए भारतीय निर्वाचन आयोग की सभी हिदायतों तथा दिशा-निर्देशों की पालना करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि भगौड़ों और पैरोल जम्पर्स को गिरफ्तार करने व गैर-जमानती वारंटों को लागू करने के लिए विशेष मुहिम चलाई गई है।

उन्होंने कहा कि एसएसपीज और सीपीज को नाजायज शराब, नशीले पदार्थों की बिक्री में शामिल लोगों की चौकसी के साथ निगरानी करने के लिए भी कहा गया है। डीजीपी ने सीपीज, एसएसपीज को चुनाव आयोग के नियमों की पालना करते हुए लोगों से लाइसैंसी हथियार जमा करवाने के निर्देश दिए हैं।

राज्य भर में बढ़ाई सुरक्षा, संवेदनशील जिलों में केंद्रीय बलों की 25 कंपनियां तैनात: स्पैशल डी.जी.पी. अर्पित शुक्ला
स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने कहा कि राज्य भर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है और फील्ड अफसरों को पुलिस बल का आडिट करने के लिए कहा गया है और मतदान के दौरान 75 फीसदी पुलिस बल तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी सीपीज, एसएसपीज को पहले ही समाज विरोधी तत्वों पर नजर रखने और आम लोगों में विश्वास पैदा करने के लिए अपने अधिकार क्षेत्रों में फ्लैग मार्च करने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि अपराधियों, बुटलेगरों और नशा तस्करों के यातायात को रोकने के लिए अंतर्राज्यीय सरहदों पर चैकिंग बढ़ा दी गई है।

उन्होंने कहा कि राज्य के संवेदनशील जिलों में केंद्रीय हथियारबंद पुलिस बल (CAPF) की 25 कंपनियां तैनात की गई हैं जिससे आम लोगों में विश्वास पैदा करने के साथसाथ राज्य के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में सुखद माहौल बनाया जा सके। 25 कंपनियों में सैंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) की 5, सीमा सुरक्षा बल (BSF) की 15 और इंडो-तिब्बत बार्डर पुलिस (ITBP) की 5 कंपनियां शामिल है। स्पैशल डीजीपी ने कहा कि सभी पुलिस अफसरों को निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशानिर्देश भी भेज दिए गए हैं।