07/13/2024 10:28 PM

अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के समक्ष अमेरिकी सिख ने अमृतपाल सिंह की रिहाई का मुद्दा उठाया

वारिस पंजाब दे के प्रमुख व खडूर साहिब लोकसभा सीट से सांसद अमृतपाल सिंह को लोकसभा में शपथ ग्रहण समारोह के लिए रिहा न करने का मुद्दा अमेरिका के राजनीतिक गलियारों तक पहुंच गया है। अमृतपाल ने लोकसभा क्षेत्र खडूर साहिब से करीब दो लाख वोटों के भारी अंतर से जीत हासिल की है। इस संबंध में अमेरिका के प्रसिद्ध सिख वकील जसप्रीत सिंह ने एक बार फिर अमेरिका में अमृतपाल का मुद्दा उठाया है।

अमेरिका के सिख वकील ने अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि उनकी मुलाकात को काफी सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। यह मुलाकात कमला हैरिस द्वारा दिए गए समय के अनुसार कैलिफोर्निया के लॉस एंजिल्स शहर में हुई। यह मुलाकात करीब एक घंटे तक चली। इस मुलाकात के दौरान सिख वकील जसप्रीत सिंह ने अमृतपाल सिंह सहित सिखों से जुड़े कई अन्य महत्वपूर्ण मुद्दे कमला हैरिस के समक्ष रखे। अमृतपाल सिंह की रिहाई पर वकील जसप्रीत सिंह ने कहा कि उन्हें एनएसए के तहत गिरफ्तार किया गया है। उनकी गिरफ्तारी को गलत और अवैध बताते हुए जसप्रीत सिंह ने कहा कि अमृतपाल पर एनएसए एक साल के लिए बढ़ा दिया गया है। उन्होंने लोकसभा चुनाव में भारी अंतर से जीत दर्ज की, लेकिन उन्हें सांसद के तौर पर शपथ लेने की अनुमति नहीं दी गई।

उन्होंने उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से यह भी कहा कि भारत में मानवाधिकारों के हनन के सबूत मौजूद हैं। अटॉर्नी जसप्रीत सिंह ने कमला हैरिस के समक्ष लंबे समय से भारतीय जेलों में सजा काट रहे बंदी सिंहों की रिहाई का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि कई सिख अपनी सजा पूरी करने के बाद भी भारत की जेलों में बंद हैं। उन्हें जल्द रिहा किया जाना चाहिए।

उन्होंने अमेरिका में रह रहे कुछ सिख नेताओं पर भारत सरकार द्वारा हमला करने की कोशिश के बारे में बात की और बताया कि कई सिख नेताओं को यहां अमेरिका में तरह-तरह की धमकियां मिल रही हैं। उन्होंने इमिग्रेशन से जुड़े अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की। उन्होंने पांचवां महत्वपूर्ण मुद्दा अमेरिका में रह रहे सिखों को लेकर लगातार बढ़ रहे घृणा अपराध (नरसंहार) का भी उठाया।