05/20/2024 6:14 PM

Kisan Andolan 2.0 : भारतीय किसान यूनियन का बड़ा ऐलान

भारतीय किसान यूनियन (एकता उगराहां) एमएसपी के लिए कानूनी गारंटी समेत अपनी विभिन्न मांगों को लेकर किसानों के विरोध प्रदर्शन के पांचवें दिन शनिवार को पंजाब में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के तीन वरिष्ठ नेताओं के आवासों के बाहर धरना देगी। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, भाजपा की पंजाब इकाई के प्रमुख सुनील जाखड़ और वरिष्ठ नेता केवल सिंह ढिल्लों के आवासों के बाहर धरना देने के अलावा, यूनियन किसानों के दिल्ली चलो आह्वान को समर्थन देते हुए राज्य में टोल प्लाजा पर भी विरोध प्रदर्शन करेगी।

संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा के दिल्ली चलो मार्च के पांचवें दिन फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी समेत अपनी मांगों को स्वीकार करने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव डाल रहे किसान पंजाब और हरियाणा के दो सीमा बिंदुओं पर मौजूद हैं।

पंजाब के किसानों ने मंगलवार को दिल्ली के लिए मार्च शुरू किया था, लेकिन सुरक्षार्किमयों ने उन्हें हरियाणा से लगी पंजाब की सीमा के शंभू और खनौरी बिंदुओं पर रोक दिया। तब से प्रदर्शनकारी इन दो सीमा बिंदुओं पर डेरा डाले हुए हैं। हरियाणा में स्थित गुरनाम सिंह चढूनी के नेतृत्व वाला भारतीय किसान यूनियन (चढूनी) शनिवार को आंदोलनकारी किसानों के साथ एकजुटता दिखाते हुए ट्रैक्टर रैली निकालेगा।

बता दें, 8, 12 और 15 फरवरी को हुई पिछली 3 बैठकें बेनतीजा रही थी। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि तीसरे दौर की बैठक में “बहुत सकारात्मक” चर्चा हुई। यह निर्णय लिया गया है कि अगली बैठक, जो चौथे दौर की बैठक होगी, वह रविवार 18 फरवरी को शाम 6 बजे होगी। किसान नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों – अर्जुन मुंडा, पीयूष गोयल और नित्यानंद राय के बीच तीसरे दौर की बैठक हुई। बैठक में हिस्सा लेने वाले किसान नेताओं में जगजीत सिंह दल्लेवाल, सरवन सिंह पंढेर और जरनैल सिंह शामिल थे।