05/24/2024 1:03 PM

पंजाब समेत कई राज्यों में आंधी- व बारिश का ऑरेंज अलर्ट

मौसम माहिरों ने पंजाब के मैदानी इलाकों में आंधी-गड़े-बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। आने वाले 12 से 24 घंटों के अंतराल कभी भी बारिश का सिलसिला शुरू हो सकता है। वहीं, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड और पश्चिमी यूपी में कहीं बारिश, तो कहीं तेज हवाओं के साथ ओलावृष्टि हो सकती है, जिसको लेकर मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। साथ ही इस मौसम यह बदलाव पाकिस्तान-अफगानिस्तान के पास एक्टिव वैस्टर्न डिस्टर्बेस से आया है, जो मजबूत रहने वाली है। इससे मैदानी इलाकों में 50 से 60 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी चल रही है। मौसम का यह हाल 21 फरवरी तक बना रहने वाला है।

IMD के डायरैक्टर डॉ. के. सिंह ने बताया कि मंगलवार को पंजाब में पहाड़ों के साथ लगने वाले इलाके पठानकोट, गुरदासपुर में वैस्टर्न डिस्टर्बेस का ज्यादा असर देखने को मिल सकता है, जबकि बाकी शहरों में तेज हवाओं के साथ बारिश व औलावृष्टि होने का अनुमान है। इससे लोगों को एक बार फिर से सूरज देव के दर्शन दुर्लभ हो सकते हैं। ठंड में और इजाफा हो सकता है। सोमवार सुबह से ही धूल भरी आंधी चलने से लोगों को रास्ते पर मुश्किलों का सामना करना पड़ा। पूरा दिन हवाओं के चलने की गति तेज रही लेकिन अब मौसम माहिरों ने आने वाले 24 से 48 घंटों के अंतराल कभी भी बारिश होने की संभावना जताई है। सोमवार को दिन का तापमान 24.6 डिग्री सैल्सियस व न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सैल्सियस रिकार्ड किया गया। वहीं सुबह के समय हवा में नमी की मात्र 66 व शाम में 54 फीसदी रही।

गेहूं की फसल को 15 मार्च तक जरूरत होती है ठंडक
चीफ एग्रीकल्चरल ऑफिसर डॉ. नरिंदर सिंह बैनीपाल ने बताया कि खेतों में तैयार हो रही गेहूं की फसल को 15 मार्च तक ठंडक की जरूरत होती है। इसके बाद किसान ऊपर वाले से बारिश न होने की गुहार लगाता है। इस समय मौसम में आ रहा बदलाव किसानों के लिए सोने पर सोहागा है क्योंकि पिछले दिनों निकली तेज धूप से किसानों को फिर से गेहूं की फसल समय से पहले पकने का डर सताने लगा था। ऐसे में अब मौसम के बिगड़े मिजाज किसानों के लिए राहत है। हमने किसानों में खेतों तैयार हो रही फसल को पानी न लगाने के लिए जागरूक किया है।