04/16/2024 4:25 PM

पंजाब मंडी बोर्ड का 1,146 करोड़ रुपए का वार्षिक बजट पास

पंजाब मंडी बोर्ड के चेयरमैन हरचंद सिंह बरसट के नेतृत्व में किसान भवन में बोर्ड आफ डायरेक्टर्ज की मीटिंग हुई। जिसमें, पंजाब मंडी बोर्ड से संबंधित एजैंडों पर विस्तार से चर्चा की गई और 1,146 करोड़ रुपए का वार्षिक बजट पारित किया गया। इस दौरान हरचंद सिंह बरसट ने अपने एक वर्ष के कार्यकाल का विस्तृत ब्यौरा दिया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा मंडी बोर्ड का आर.डी.एफ. रोकने के कारण गांवों की लिंक सड़कों, मंडियों और ग्रामीण क्षेत्रों का विकास रुका पड़ा है।

इसलिए, मंडी बोर्ड की आमदन बढ़ाने के लिए बीते एक साल में विशेष योजनाएं बनाई गई हैं, जिनको जल्द से जल्द पूरा किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसके लिए पंजाब की मंडियों में खाली पड़े प्लाटों की बोली करवाई जा रही है और नई आधुनिक फल एवं सब्जी मंडी सैक्टर65ए मोहाली में जहां रैगुलर मॉनिटरिंग करते हुए 7 दुकानें बेची जा चुकी हैं, वहीं यूजर चार्जिज में भी बढ़ौतरी दर्ज की गई है, जहां वर्ष 2021-22 के दौरान 24 लाख रुपए और वर्ष 2022- 23 के दौरान 35 लाख रुपए प्राप्त हुए हैं, वहीं आगामी वित्तीय वर्ष 2024- 25 के दौरान लगभग 45 लाख रुपए का ठेका तय हुआ है।

इस अवसर पर चेयरमैन हरचंद सिंह बरसट ने गांव महमदपुर पंचायत से संदीप सिंह, तरनतारन सिंह, भजन सिंह वालिया, कुलवंत सिंह, चरण सिंह, गुरजीत सिंह और कुलविंदर सिंह को सम्मानित किया और जल्द ही महमदपुर में सब-यार्ड बनाने का आश्वासन दिया। इसके बाद हास्पीटेलिटी का कोर्स करने वाले किसान भवन के 30 कर्मचारियों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।

महमदपुर गांव के लोगों ने 83 बीघे जमीन मंडी बोर्ड को दान दी
चेयरमैन ने आगे बताया कि महमदपुर गांव के लोगों द्वारा कुल 83 बीघे जमीन मंडी बोर्ड को दान दी गई है, जहां जल्द ही सब-यार्ड का निर्माण कराया जाएगा। किसानों एवं लोगों की सुविधा के लिए किसान भवन एवं किसान हवेली में कमरों की ऑनलाइन बुकिंग वैब पोर्टल के माध्यम से की जा रही है। इसके साथ ही अप्रैल 2023 में जहां आय 7,08,350 रुपए थी, वहीं जनवरी 2024 तक यह बढ़कर 37,37,881 रुपए हो गई है।