04/21/2024 1:08 PM

शुगर मिल चलाने की मांग को लेकर एस.के.एम. ने मुख्यमंत्री कैंप दफ्तर समक्ष लगाया धरना

धूरी: गत सीजन से बंद चली आ रही स्थानीय शुगर मिल को फिर से चालू करवाने की माँग को लेकर आज संयुक्त किसान मोर्चा में शामिल अलग-अलग किसान जत्थेबंदियों की तरफ से मुख्यमंत्री के धूरी में कैंपस दफ्तर समक्ष रोश धरना दिया गया और पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई। इस मौके साथी मेजर सिंह पुन्नावाल, रछपाल सिंह दोहला, उधम सिंह संतोखपुरा, जरनैल सिंह जहाँगीर, इन्दरपाल सिंह, भूपिन्दर सिंह भुल्लरहेड़ी, नाजम सिंह पुन्नावाल, हरजीत सिंह जलाण ने कहा कि एक तरफ पानी के स्तर के लिए चिंतित सरकार किसानों को फसली विभिन्नता अपनाने के लिए प्रेरित कर रही है।

दूसरी तरफ शुगर मिल बंद करके गन्ना काश्तकारों को फिर से गेहूँ और धान की फसल बीजने के लिए मजबूर किया जा रहा है। नेताओं ने कहा कि इस संबंधी वह मुख्य मंत्री भगवंत मान के ओ.एस.डी ने किसान नेताओं के साथ मीटिंग दौरान मिल चलाने का भरोसा दिलाया था। परन्तु दो महीने निकलने के बाद भी मिल नहीं चलाया गया और न ही सरकार की तरफ से गन्ना काश्तकारों की बकाया रहती 1 करोड़ 3 लाख रुपए की अदायगी भी नहीं की गई जिससे स्पष्ट होता है कि पंजाब सरकार हर फ्रंट पर फेल साबित हुई है।

नेताओं ने चेतावनी दी कि यदि कोई प्रशासनिक अधिकारी या सरकार का नुमायंदा माँगों संबंधी कोई भरोसा नहीं दिलाता तो वह चक्का जाम करने के लिए मजबूर होंगे, जिसके बाद हरकत में आये प्रशासन की तरफ से एस. डी. एम धूरी अमित गुप्ता ने प्रदर्शनकारियों को भरोसा दिलाया कि वह सभी मामले को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाएंगे जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने मामला जल्द हल न होने पर संघर्ष की आगे वाली रूपरेखा बनाने की बात कहते समाप्त किया।