06/13/2024 3:59 AM

पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग को लेकर जेसीआई ने यूपी के उपमुख्यमंत्री को सौपा ज्ञापन

उत्तर प्रदेश (EN) पत्रकार समाज और शासन के बीच की मजबूत कड़ी है निष्पक्ष और निर्भीक पत्रकारिता से ही स्वस्थ लोकतंत्र स्थापित होता है ऐसे मे लगातार देखा जा रहा है कि भृष्ट लोग सच्चाई उजागर करने पर पत्रकार को ही निशाना बनाते है और उन पर झूठे मुकदमे लिखा देते है मुकदमा दर्ज होते ही पत्रकार समाज मे अपना सम्मान खो देता है ऐसे मे आवश्यक है कि कोई भी आपराधिक मुकदमा दर्ज करने से पूर्व प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराई जाये और दोषी पाये जाने पर ही मुकदमा दर्ज हो। ऐसे मे अब आवश्यक है कि महाराष्ट्र और छत्तीसगढ की तरह अब उत्तर प्रदेश मे भी पत्रकार सुरक्षा कानून लागू हो जिसमे श्रमजीवी पत्रकारो के साथ ही गैर मान्यताप्राप्त पत्रकारों को भी शामिल किया जाए। बता दे कि 29 धौरहरा लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी श्रीमती रेखा अरुण वर्मा जी की लोकसभा में आयोजित सोशल मीडिया वालंटियर सम्मेलन को मुख्य अतिथि के रूप में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक जी संबोधित करने आये थे। जेसीआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा अनुराग सक्सेना व मंडल संयोजक राघवेंद्र त्रिपाठी के निर्देश पर एक ज्ञापन जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंडिया के बैनर तले माननीय उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक को प्रदेश में भी पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने के लिए वरिष्ठ पत्रकार संजय कुमार राठौर, दिनेश सिंह सोमवंशी, शिवेंद्र सिंह सोमवंशी, सुनीत राठौर, राम जी, बासिद अली सहित तमाम पत्रकारों ने मिलकर दिया। जिस पर सरकार की ओर से विचार करने के लिए बृजेश पाठक ने उपस्थित पत्रकारों को आश्वस्त किया।

Related Posts