07/13/2024 9:13 PM

कांग्रेस ने जालंधर को बदहाली में धकेला; शहर के विकास और सौंदर्यीकरण के लिए रखे गए करोड़ों रुपए लूटे :आप

कांग्रेस उम्मीदवार सुरिंदर कौर डिप्टी मेयर के तौर पर अपने कर्तव्यों का पालन करने में पूरी तरह फेल रहीं : आप

आप ने डिप्टी मेयर के तौर पर उनके काम के संबंध में पांच सवाल पूछकर कांग्रेस उम्मीदवार को दी चुनौती

वरयाना में कचरे का पहाड़ जालंधर नगर निगम में कांग्रेस के भ्रष्टाचार का उदाहरण है : हरजोत बैंस

जालंधर/चंडीगढ़, 26 जून (EN) आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब ने जालंधर पश्चिम से कांग्रेस उम्मीदवार सुरिंदर कौर पर हमला बोला और कहा कि डिप्टी मेयर रहते हुए उन्होंने जालंधर पश्चिम या जालंधर शहर के लिए कुछ नहीं किया। ज्यादातर समय उनका दफ्तर बंद रहता था और जालंधर स्मार्ट सिटी फंड घोटाले में भी उनकी भूमिका संदिग्ध है। बुधवार को जालंधर में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए आप नेता और कैबिनेट मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने मीडिया के माध्यम से कांग्रेस प्रत्याशी से पांच सवाल पूछे। हरजोत बैंस ने कहा कि सुरिंदर कौर पांच साल जालंधर की डिप्टी मेयर और करीब 20 साल एमसी रहीं। लेकिन सवाल यह है कि एमसी और डिप्टी मेयर रहते हुए उन्होंने जालंधर वेस्ट और यहां के लोगों के लिए क्या किया? आप नेता ने कांग्रेस प्रत्याशी से पूछा कि जब वह डिप्टी मेयर थीं तो उनका दफ्तर ज्यादातर क्यों बंद रहता था? वह लोगों के बीच क्यों नहीं गईं, उनकी समस्याएं क्यों नहीं सुनीं और उनका समाधान क्यों नहीं किया? आप मंत्री ने सुरिंदर कौर से स्मार्ट सिटी फंड घोटाले के बारे में भी सवाल किया और कहा कि उन्हें लोगों को बताना चाहिए कि वह उस घोटाले में शामिल थीं या नहीं और अगर नहीं थीं तो 760 करोड़ के घोटाले पर वह चुप क्यों रहीं? उन्होंने कहा कि आज जालंधर की सड़कें, गलियां और सीवरेज की हालत खस्ता है, सारा पैसा कहां गया? बैंस ने कहा कि सड़कें, गलियां, स्ट्रीट लाइट, सीवरेज सिस्टम आदि के रखरखाव की जिम्मेदारी शहर की स्थानीय निकाय पर होती है, लेकिन सुरिंदर कौर ने लोगों को पूरी तरह से निराश किया। उन्होंने कहा कि वह अपने कार्यालय भी नहीं गईं, इन मुद्दों को हल करने के लिए पार्षदों के साथ कभी कोई बैठक भी नहीं की। उन्हें लोगों को इस विफलता के लिए जवाब देना चाहिए। आप नेता ने कहा कि सुरिंदर कौर ने डिप्टी मेयर रहते हुए जालंधर पश्चिम को केवल एक ही तोहफा दिया है, वह है वरयाना में कचरे का विशाल पहाड़। हरजोत बैंस ने पूछा कि उन्होंने इसकी सफाई के लिए कुछ क्यों नहीं किया? उन्होंने कहा कि आज वरयाना में हालात रहने लायक भी हैं, इसकी जिम्मेदारी किसकी है? उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पीने योग्य पानी की भी कमी है। तो उन्होंने इस क्षेत्र को कितने जल निकाय या ट्यूबवेल दिए? प्रेस कॉन्फ्रेंस में आम आदमी पार्टी के जालंधर से लोकसभा उम्मीदवार रहे पवन कुमार टीनू भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि यह उपचुनाव एक अयोग्य और भ्रष्ट नेता द्वारा जालंधर पश्चिम के लोगों पर थोपा गया है। जालंधर पश्चिम से कांग्रेस उम्मीदवार सुरिंदर कौर 20 साल तक पार्षद और सीनियर डिप्टी मेयर रहीं, क्या वह लोगों को बता सकती हैं कि सीनियर डिप्टी मेयर के रूप में अपने पूरे कार्यकाल के दौरान जालंधर पश्चिम के विकास के लिए उनकी उपलब्धि क्या रही?

आम आदमी पार्टी के कांग्रेस उम्मीदवार सुरिंदर कौर से पांच सवाल

प्रश्न 1. सीनियर डिप्टी मेयर होते हुए आपका कार्यालय क्यों बंद रहता था और आप हमेशा कार्यालय से गायब क्यों रहती थीं? क्या आपने कभी 23 पार्षदों से मिलकर उनसे फीडबैक लिया?

प्रश्न 2. कांग्रेस सरकार के समय पंजाब में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में हुए अरबों रुपये के घोटाले के बारे में आपने कभी तक कुछ क्यों नहीं कहा?

प्रश्न 3. जालंधर में सड़कें, सीवरेज, नालों की सफाई, कूड़ा जैसी बुनियादी समस्याओं के समाधान के लिए आपने क्या किया?

प्रश्न 4. वरयाना में कूड़े का पहाड़ लोगों के लिए आफत बन गया है। वर्ष 2018- 19 और 2020 के स्वच्छता सर्वेक्षण में जालंधर देश के पहले 100 शहरों की सूची में क्यों नहीं आ पाया?

प्रश्न 5. कांग्रेस प्रत्याशी ने लोगों तक स्वच्छ पेयजल पहुंचाने के लिए अपने क्षेत्र में कितने ट्यूबवेल लगवाए?